Google Adsence Kya Hai Aur Ye(Work) Kaise karta hai - Help Use India- Blog Se Related Jankari Hindi Me

Latest

Internet se paise kaise kamaye, Help Use India, Blog, Adsence, Seo, Youtube Webdegine, Widget Ki jankari Hindi Me

BANNER 728X90

Tuesday, August 22, 2017

Google Adsence Kya Hai Aur Ye(Work) Kaise karta hai

Hey friends.. mai aaj aapko adsence ke bare puri jankari dunga
Google AdSense kya hai (क्या है)? आप में से बहुतो ने ये नाम सुना ही होगा. जब हम blogging या और कोई online काम करते है, तो ज्यादातर लोगो का येही motive होता है के पैसे कैसे कमाए. Online पैसे कमाना कोई बड़ी बात नहिं है. हर कोई Internet से पैसे कमा सकता है, पर उसके लिए आपको मेहनती होना पड़ेगा. ये नहिं के Internet लगा लिया और एक blog या website बना लेने से आपका income सुरु हो जायेगा. बिना मेहनत के ना किसीको कुछ मिला है और ना ही मिलेगा. आपको हमेसा अपने काम को ले कर serious होना जरुरी है

 blog बनाने के बाद, वहां से पैसे नहिं आते. आपको आपने blog उसके लिए तेयार करना होगा. जैसे हम अनाज लगा लेने से पैसे नहिं आते, उसके लिए हमे उन्हें बेचना पड़ता है. तो इसी तरह आपको भी अपनी blog में advertisement डालना पड़ेगा.  जिसका भी ads अपने blog में डालोगे, वो आपको उसके लिए पैसे देगा. AdSense भी एक तरह का advertisement company है, जिसके जरिये आप अच्छा खासा पैसे कम सकते है. चलिए उसके बारे में details में जानते हैं.

Google AdSense Kya Hai (क्या है)?


AdSense एक Google का product है जो publisher के website या blog पे automatic text, image और video के ads दिखता है. ज्यादातर blogger इसीके ऊपर depend करते है. अगर आपकी blog AdSense approved है, तब जाके आप अपने blog पे इसकी ads डाल सकते है. इससे आप दो तरह से पैसे income कर सकते है.

Impressions: ये रोज आपके ads कितनी बार देखे गए उसकी हिसाब से पैसे देता है. आप मान सकते है के ये हर 1000 view में $1 देता है.

Clicks: ये depend करता है के आपके ads पर कितने clicks हुए.

एक बार आपकी Adsense में account approve हो जाये तो आप अपने हिसाब से ads को look दे सकते है और ये भी decide कर सकते है के वो आपकी blog पे कहाँ दिखेगा. जब आपकी blog पे visitors आयेंगे और ads को देखेंगे और उसमे clicks करेंगे, तो आपकी earnings बढती जाएगी. एक बार ये $100 हो जाये तो आप उसे check के जरिये या फिर direct अपनी bank account में transfer कर सकते हैं.



बस blog या website पे नहिं, ये YouTube पे भी काम करता है. लोग ज्यादातर कुछ पढने से अच्छा video देखना पसंद करते है, और सायद इसीलिए YouTube world का 3rd best website है. अपने notice किया होगा के YouTube में video देखते time आपको कुछ ads दिखाई देते है, ये और कुछ नहिं Google AdSense के ही ads होते है.

अगर आपके blog में visitor नहिं हो रहें तो AdSense ads डाल के कोई फायेदा नहिं है. ऐसा नहिं है के कम visitor पे AdSense approve नहिं करता, ये एक ऐसा advertise network है जो आप कितने भी डेली visitors में approve करा सकते हैं. इसीलिए ये blogging world में बहुत ही लोकप्रिय है.

Google Adsense Kaise Kaam Karta Hai (कैसे काम करता है)?


जो अपनी site में ads डालते है उन्हें publisher कहा जाता है और जिसका ads हमे दिखता है वो advertiser होते हैं. मान लीजिये आपकी blog में Airtel का ads दिखा रहा है, इसका मतलब ये एक advertiser है.

अगर आप किसी company का ads अपनी site पे दिखाना चाहते हो तो ये सम्भब नहिं के आप उस company के साथ direct बात कर सको. ऐसे में आप कितनी company के साथ बात करोगे. इसीलिए Google ने Adwards के नाम से एक product सुरु किया. इसके जरिये बड़ी बड़ी company या जो कोई भी अपनी product या company को world में promote करना चाहते है वो उसके जरिये register कर सकते है और अपनी ads add कर सकते है.

Blogger vs WordPress – Blogging Keliye Kaunsa Behtar hai?
सारे company या products की keywords होती है. Keywords वो होते है, जिससे लोग Google पे search करते हैं. अगर आपकी website पे किसी product का keyword है तो आपकी website उसी keywords के related ads दिखाई देगा. जब Google के Robots आपकी blog पे visit करते है और आपकी website में कोई keyword डिटेक्ट करते है तो वो उसे Adwards से match कराके उसके जो products है वोही ads दिखाते है. आपने आपनी blog में smartphone के बारे में लिखा है तो आपकी blog में smartphone से related advertise दिखाई देगा. ये सब ads उन company का है जो Google Adwards में अपनी products में उससे रेअल्तेद keywords डाले हैं. और जब भी हम उनके keywords को अपनी post में use करते है, तो हमे उनके ही ads दिखाई देते हैं.

और एक है Interest-based advertising. जब आप कोई e-commerce या कोई product के website visit करते है तो सब की history और data आपकी browser में save होके रहता है. जब आप फिर कोई blog या website visit करते हो जिसमे AdSense के ads है तो वो आपकी browser की data को access करके अपने पिछले visit किये हुए page के हिसाब से ads दिखता है. AdSense ये मानता है के आपका उसमे interest है तो आपको उसके related ads शो करता है. मान लीजिये के अपने अभी Flipkart का website visit किया और उसमे एक mobile धुंद रहे थे, तो आपकी next AdSense Flipkart या फिर mobile related ही होगा.

ये था Google AdSense और इससे संबधित कुछ जानकारी. अगर आपको इसके बारे में और भी कुछ जानना है तो आप निचे comment करना ना भूलें.

No comments:

Post a Comment

Mere Blog Par App Blog Se Related Comment Kare !